Google+
Lyrics Pouch
Play Random Songs

जब तक पूरे ना हों फेरे - Song Hindi lyrics and Download

यह गाना शादी सोंग मूवी का है। यह गाना फिल्म- नदिया के पार, गीत- रबिन्द्र जैन, संगीत- रबिन्द्र जैन, गायिका- हेमलता। ने गाया है


जब तक पूरे ना हों फेरे Hindi Lyrics

(बबुआ हो बबुआ
पहुना हो पहुना ) -२

(जब तक पूरे ना हों
फेरे सात) -२
तब तक दुल्हन
नहीं दुल्हा की
ऐ तब तक बहुनी
नहीं बबुआ की
ना, जब तक पूरे ना हों
फेरे सात

अबही तो बबुआ पहली
भँबर पडी है
अबही तो पहुना दिल्ली
दूर बडी है
हो पहली भँबर पडी है
दिल्ली दूर बडी है

करनी होगी
तपस्या सारी रात
जब तक पूरे ना हों
फेरे सात
तब तक दुल्हन
नहीं दुल्हा की
हे तब तक बबुनी
नहीं बबुआ की
ना, जब तक पूरे ना हों
फेरे सात

जैसे जैसे भँबर पडे
मन अँगना को छोडे
इक इक भाँबर नाता
अनजानों से जोडे
मन घर अँगना को छोडे
अनजानों से नाता जोडे
सुख की बदरी
आँसू की बरसात
जब तक पूरे ना हों
फेरे सात
तब तक दुल्हन
नहीं दुल्हा की
हे तब तक बबुनी
नहीं बबुआ की
ना, जब तक पूरे ना हों
फेरे सात

(बबुआ हो बबुआ
पहुना हो पहुना ) -२
(सात फेरे करो
बबुआ भरो सात वचन भी
ऐसे कन्या कैसे अर्पन
कर दे तन भी मन भी) -२

उठो उठो बबुनी देखो
देखो ध्रुब तारा
ध्रुब तारे सा हो
अमर सुहाग तिहारा
ओ, देखो देखो ध्रुब तारा
अमर सुहाग तिहारा

सातों फेरे सात
जनमों का साथ
जब तक पूरे ना हों
फेरे सात
तब तक दुल्हन
नहीं दुल्हा की
हे तब तक बबुनी
नहीं बबुआ की
ना, जब तक पूरे ना हों
फेरे सात