Google+
Lyrics Pouch
Play Random Songs

हाये हाये ये मजबूरी - Song Hindi lyrics and Download

यह गाना गाने बारिश के मूवी का है। यह गाना फिल्म- रोटी कपड़ा और मकान, गीत- वर्मा मलिक, संगीत- लक्ष्मीकांत प्यारेलाल, गायिका- लता मंगेशकर। ने गाया है


हाये हाये ये मजबूरी Hindi Lyrics

अरे हाये हाये ये मजबूरी
ये मौसम और ये दूरी
अरे हाये हाये हाये मजबूरी
ये मौसम और ये दूरी
मुझे पल पल है तड़पाये
तेरी दो टकियाँ दी नौकरी में
मेरा लाखों का सावन जाये
हाये हाये हाये मजबूरी
ये मौसम और ये दूरी
मुझे पल पल है तड़पाये
तेरी दो टकियाँ दी नौकरी में
मेरा लाखों का सावन जाये
हाये हाये हाये मजबूरी
ये मौसम और ये दूरी

(कितने सावन बीत गये) -२
बैठी हूँ आस लगाये
जिस सावन में मिले सजनवा
वो सावन कब आये, कब आये
मधुर मिलन का ये सावन
हाथों से निकला जाये
तेरी दो टकियाँ दी नौकरी में
मेरा लाखों का सावन जाये
हाये हाये हाये मजबूरी
ये मौसम और ये दूरी
मुझे पल पल है तड़पाये
तेरी दो टकियाँ दी नौकरी में
मेरा लाखों का सावन जाये
हाये हाये हाये मजबूरी
ये मौसम और ये दूरी

(प्रेम का ऐसा बंधन है) -२
जो बंध के फिर ना टूटे
अरे नौकरी का है क्या भरोसा
आज मिले कल छूटे, कल छूटे
अम्बर पे है रचा स्वयंवर
फिर भी तू धबराये
तेरी दो टकियाँ दी नौकरी में
मेरा लाखों का सावन जाये

मुझे पल पल है तड़पाये
तेरी दो टकियाँ दी नौकरी में
मेरा लाखों का सावन जाये
हाये हाये हाये मजबूरी
ये मौसम और ये दूरी